IPL 2024 में इन खिलाड़ियों की आएगी मौज, बिना फील्डिंग किए मिलेगा बैटिंग और बॉलिंग करने का मौका!

IPL 2024: दुनिया की सबसे बड़ी क्रिकेट लीग टूर्नामेंट आईपीएल का अगला सीजन आईपीएल इतिहास का 17वां सीजन होने जा रहा है, जिसके लिए सभी काफी ज्यादा उत्साहित हैं। आईपीएल 2024 के आगाज को लेकर अभी तक कोई आधिकारिक ऐलान नहीं किया गया है। मगर रिपोर्ट्स की मानें, तो इसका आगाज 22 मार्च से हो सकता है, जिसमें अब बेहद ही कम समय बाकि है। जिस वजह से लगभग सभी आईपीएल टीमों ने तैयारियां शुरू कर दी है। जिन तैयारियों के तहत ज्यादातर फ्रेंचाइजियों ने अपने कप्तानों का भी ऐलान कर दिया है।

in ipl 2024 these players can become impact players

लेकिन इन सभी चीजों के बीच आईपीएल 2024 में जिस चीज पर लोगों का सबसे ज्यादा ध्यान जाने वाला है। वह इम्पैक्ट प्लेयर रूल है, जिसकी शुरुआत आईपीएल 2023 सीजन में हुई थी। जिसका इस्तेमाल कर बीते सीजन सभी टीमों ने कई मुकाबले जीते थे। इस सीजन भी इस रूल का जलवा देखने को मिलेगा। जहां कई खिलाड़ियों को इस रूल का काफी फायदा होगा और उन्हें बिना ज्यादा फील्डिंग किए बल्लेबाजी और गेंदबाजी करने का मौका मिल जाएगा। तो आइए जानते हैं कि आखिर यह रूल क्या है और इसके तहत खिलाड़ियों और टीमों को कैसे फायदा होने वाला है।

IPL 2024 में इम्पैक्ट प्लेयर रूल की वजह से होगी खिलाड़ियों की मौज

in ipl 2024 these players can become impact players

दरअसल, इम्पैक्ट प्लेयर रूल को आईपीएल में पहली बार 2023 सीजन में इस्तेमाल किया गया था। जिससे कोई भी टीम बल्लेबाजी या गेंदबाजी के समय किसी भी एक खिलाड़ी को मैदान पर उतार सकती है और मुकाबले को अपने हित में कर सकती है। आसान शब्दों में बताया जाए तो इस नियम के अनुसार टॉस के बाद दोनों कप्तानों को 4 सब्सीट्यूट खिलाड़ियों के नाम देने होंगे।

कप्तान द्वारा चुने गए इन चार खिलाड़ियों में से किसी एक खिलाड़ी को टीम इम्पैक्ट प्लेयर के तौर पर चुन सकती है। इस खिलाड़ी का इस्तेमाल बल्लेबाजी और गेंदबाजी करने वाली टीम मैच में किसी भी समय कर सकती है। जो खिलाड़ी मैदान पर आते ही मैच का रुख बदल देगा। बीते सीजन हमने कई मौकों पर देखा था, जहां टीम ने इस रूल का इस्तेमाल कर काफी फायदा उठाया था। ऐसे में जो खिलाड़ी सब्सीट्यूट या इम्पैक्ट के तौर पर मैदान में आएगा। उसे काफी कम समय ही फील्डिंग कर गेंदबाजी और बल्लेबाजी करने का मौका मिल जाएगा।

टीम की जरुरत के हिसाब से भी मिलेगा मौका

हालांकि यह टीम की जरुरत पर भी निर्भर करता है, क्योंकि कई मौकों पर जब टीम पहले बल्लेबाजी करते हुए कमजोर पड़ जाती है, तो एक अन्य खिलाड़ी को टीम में शामिल कर लिया जाता है। जिसके बाद उसे टीम की गेंदबाजी के समय फील्डिंग भी करनी पड़ती हैं। वहीं जब कोई टीम पहले गेंदबाजी करने के बाद आखिरी लम्हों में किसी बल्लेबाज को अगली पारी के लिए इम्पैक्ट प्लेयर के तौर पर इस्तेमाल करती है। तो वह खिलाड़ी आसानी से अंतिम के 1 या दो ओवर ही फील्डिंग कर पूरी बल्लेबाजी का मजा ले सकता है।

कई मौकों पर पहले बल्लेबाजी कर चुके खिलाड़ी को गेंदबाजी के समय टीम से निकाल अन्य खिलाड़ी को शामिल कर लिया जाता है। जिससे उसके बल्ले-बल्ले हो जाते हैं। कुछ ऐसा ही हाल इस सीजन भी देखने को मिलने वाला है। जहां सभी टीमों की ओर से कई खिलाड़ी इम्पैक्ट प्लेयर के तौर पर खेलते दिखाई दे सकते हैं।

ये सभी खिलाड़ी IPL 2024 में बन सकते हैं इम्पैक्ट प्लेयर

मुंबई इंडियंस – आकाश मधवाल, नेहल वढेरा, पियूष चावला और श्रेयस गोपाल

चेन्नई सुपर किंग्स – राजवर्धन हंगरगेकर, अजिंक्य रहाणे, समीर रिज़वी और प्रशांत सोलंकी

गुजरात टाइटंस – साई सुदर्शन, मोहित शर्मा, आर साई किशोर और अभिनव मनोहर

लखनऊ सुपर जाइंट्स – आयुष बडोनी, अमित मिश्रा, दीपक हुडा और शिवम मावी

सनराइजर्स हैदराबाद – अब्दुल समद, मयंक मारकंडे, वाशिंगटन सुन्दर और ट्रेविस हेड

कोलकता नाईट राइडर्स – सुयश शर्मा, वैभव अरोड़ा, मनीष पांडे और चेतन सकारिया

दिल्ली कैपिटल्स – ललित यादव, सुमित कुमार, इशांत शर्मा और अभिषेक पोरेल

पंजाब किंग्स – हरप्रीत बरार, हरप्रीत भाटिया, शशांक सिंह और गुरनूर बरार

राजस्थान रॉयल्स – शुभम दुबे, ध्रुव जुरेल, कुलदीप सेन और संदीप शर्मा

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर – मयंक डागर, सुयश प्रभुदेसाई, महिपाल लोमरोर और अनुज रावत।

यह भी पढ़ें: अफ्रीका में खराब प्रदर्शन का भुगतना पड़ेगा अंजाम, इन 4 खिलाड़ियों को England टेस्ट सीरीज में नहीं मिलेगा मौका