Asia Cup 2022 Venue: अब श्रीलंका नहीं बल्कि इस देश में होगा एशिया कप टूर्नामेंट

0
Asia Cup 2022
Image - Twitter

Asia Cup 2022 Venue, Schedule, Teams. एक तो करेला ऊपर से नीम चढ़ा | अगामी एशिया कप क्रिकेट के 15वें संस्करण के साथ यह कहावत बिलकुल सटीक बैठती है | पहले इसका आयोजन सितंबर 2020 में पाकिस्तान में होना था पर कोरोना की वजह से इसे जुलाई 2020 में स्थगित कर दिया गया | फिर जून 2021 में इसे श्रीलंका में आयोजित कराने पर चर्चा चली | लेकिन इस बार भी इसे स्थगित करना पड़ा |

अक्टूबर में एशियाई क्रिकेट परिषद (ACC) ने भारत-पाकिस्तान (India vs Pakistan) के बीच तनाव को देखते हुए आधिकारिक रूप से इसकी मेजबानी श्रीलंका को सौंप दी और 2023 एशिया कप पाकिस्तान में करवाने पर सहमति बनी |

जिस समय श्रीलंका को इसकी मेजबानी दे गई थी उस वक्त देश के हालात सामान्य थे | पर पिछले तीन-चार महीनों में सोने की लंका, श्रीलंका के आर्थिक हालात बेहद ख़राब हो गए हैं | अभी वहां के लोग रोजमर्रा की जरूरतों के लिए भी तरस रहे हैं | आम जन का विरोध प्रदर्शन और राजनीतिक उथल-पुथल भी जारी है |

ये भी पढ़ें: IPL 2023 Mumbai Indians: वो पाँच खिलाड़ी जिन्हें मुंबई इंडियंस अगले ऑक्शन से पहले रिटेन करेगी

इस बीच बीते 17 जुलाई को श्रीलंका क्रिकेट के सचिव मोहन डी सिल्वा ने कहा कि देश के मौजूदा हालात को देखते हुए इसका आयोजन श्रीलंका की बजाय यूएई में होने की सम्भावना है | हालाँकि आधिकारिक तौर पर इसकी पुष्टि नहीं हुई है लेकिन यह सिर्फ औपचारिकता मात्र है |

एशिया कप 2018 का आयोजन भी यूएई में ही हुआ था |

कब होना है एशिया कप का आयोजन ?

एशिया कप (Asia Cup) 2022, 27 अगस्त से शुरू होगा और फाइनल 11 सितंबर को खेला जाएगा | इसमें भारत,पाकिस्तान,श्रीलंका,बांग्लादेश,अफ़ग़ानिस्तान समेत छह टीमें हिस्सा लेंगी | छठी टीम का फैसला अगस्त 2022 में क़्वालिफ़ायर से होगा |

क्या श्रीलंका से मेजबानी का अधिकार भी छीन लिया जाएगा ?

नहीं श्रीलंका से एशिया कप की मेजबानी का अधिकार नहीं छीना जाएगा | मेजबान श्रीलंका ही रहेगा केवल टूर्नामेंट का आयोजन स्थल बदलेगा | ठीक वैसे ही जैसे पिछले साल भारत की मेजबानी में यूएई में टी20 विश्व ( T20 World Cup 2021) कप का सफल आयोजन हुआ था |

ये भी पढ़ें: Top 5 IPL Finals: आईपीएल इतिहास के 5 सबसे रोमांचक और दिलचस्प फाइनल मुकाबले

कितना नुकसान होता श्रीलंका को अगर इसकी मेजबानी किसी और देश को दे दी जाती तो ?

अगर एशिया कप किसी और देश में स्थांतरित होता तो विदेशी मुद्रा संकट से जूझ रहे श्रीलंका को 5-6 मिलियन डॉलर का नुकसान होता | वैसे तो ये बहुत बड़ी रकम नहीं है लेकिन वर्त्तमान हालात को देखते हुए श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड के लिए यह बहुत बड़ी धनराशि है | अभी हाल ही में वहां ऑस्ट्रेलिया के साथ संपन्न हुई श्रृंखला में बोर्ड को करीब 50 करोड़ का फायदा हुआ |

एशिया कप 2022 का फॉर्मेट क्या होगा ?

वैसे तो एशिया कप एकदिवसीय मैचों का टूर्नामेंट है लेकिन इस बार इसका फॉर्मेट टी20 होगा | 1984 में टूर्नामेंट जो कि हर दो साल पर होता है यह दूसरा मौका होगा जब यह 50 ओवरों की बजाय 20 ओवर का खेला जाएगा | इसके पहले 2016 में बांग्लादेश में आयोजित एशिया कप टी20 फॉर्मेट का ही था जिसमें भारत,बांग्लादेश को हराकर छठी बार विजेता बना था |

Previous articleCSA T20 League: 6 IPL Franchises Buy Cricket Teams In South Africa T20 League
Next articleVirat Kohli’s Form: Will Virat Kohli Be Considered In The ICC T20 World Cup 2022 Squad